Best and Unique Attitude Quotes In Hindi- रवैये पर आधारित कोर्स 

Send a attitde quote everyday for your friends and family to remind your love for them always. People in life are precious.

To know the real character of someone, their attitude is all enough to know them without any doubt.

The attitude of a person is the reflection of their inner beauty.

The attitude of a person changes from place to place with respect to place, the opponent, time, etc,.

If a person is too emotional, he shows his attitude either by crying or by behaving in an arrogant way.

Some people show off too much when they earn good and live a royal life. But that kind of attitude affects the people who are not as rich as them. So that kind of people must learn to be respectful and kind to others as nothing is permanent in this world.

Some people who are very talented, respectful, loyal and perfect in everything. Such people have a kind of attitude which is more appreciable. Know the difference and show your attitude as per the need and never turn your attitude as a tool for being sarcastic.

Check out these quotes on attitude in hindi and share it with your dear and near ones.

आपका रवैया ही आपकी पहचान बनेगा। रवैया आपके पेश आने के तरीके को प्रदर्शित करता है। आपके सोचने का तरीका, दूसरों से बात करने का ढंग और बहुत कुछ आपके रवैये को लोगों तक पहुंचाता है। आप जैसा मेहसूस भी करते हो वो आपके बारे में बहुत कुछ बताता है। ये अदा है आपकी जो सिर्फ आपके सोचने पर ही नहीं, आपके बर्ताव पर भी निर्भर करता है। सकारात्मक सोच वाले लोगों का रवैया हमेशा सुन्दर होता है, बिना किसी को ठेस पहुंचाए। चलिए देखते है हमारे इस व्यवहार और रवैये से जुड़े कुछ शब्दों का मिश्रण।

घमंड अच्छे इंसान को भी बुरा बना देता है। हमें घमंड कभी भी किसी पर भी नहीं करनी चाहिए।

SHARE:

हमे कभी भी अकड़ कर नही रहना चाहिए क्यों कि अकड़ दिखाने से कोई काम नही बनता बल्कि बिगड़ जाता है इसलिए हमें शांत स्वभाव से रहना चाहिए।

SHARE:

हमे अकड़ कर नही रहना चाहिए क्योंकि अकड़ दिखाने से कोई भी काम नही बनता है अकड़ इंसान को कभी न कभी कमज़ोर करदेता है

SHARE:

अकड़ मनुष्य का दुश्मन है क्योंकि हमें जीने के लिए अकड़ नही बल्कि आदर और आदर्ष काम आते है।

SHARE:

अकड़ मनुष्य में नही होनी चाहिए क्योंकि हमें सबसे मिल झूल कर रहना चाहिए। किसीको भी छोटा नहीं समझना चाहिए।

SHARE:

अकड़ में मनुष्य कभी दूसरे व्यकित को भला बुरा कहता है पर तब उसे एहसास नहीं होता है और वो अकड़ में किसी से बात भी करना नही चाहता है।

SHARE:

जब मनुष्य की फितरत में ही अकड़ हो फिर कोई भी इंसान उसे सुधार नहीं सकता। अकड़ मनुष्य को दुर्बल बना देती है।

SHARE:

अकड़ मनुष्य को जीवन मे नीचे गिरा देती है और कभी भी हमे किसी भी बात पे अकड़ नही दिखाना चाहिए।

SHARE: